आवरण कथा

एयर स्ट्राइक की अन्तर्कथा

सितंबर 2016 में सर्जिकल स्ट्राइक के जरिए एक तरह से पाकिस्तान को चेतावनी दी गई थी कि बदला हुआ भारत अब और माफ करने के मूड में नहीं है। बावजूद इसके आदतों से लाचार पाकिस्तान अपने धतकरमों से बाज नहीं आ रहा था। 26 फरबरी 2018 भारत के लिए ऐतिहासिक...

अब कंगाल होगा पाक

आर्थिक मोर्चे पर पाकिस्तान की घेराबंदी हो गई है। उससे एमएफएन दर्जा छीनने के साथ ही उसे टेरर फंडिंग के आरोप में एफएटीएफ और यूरोपीय कमीशन की ब्लैक लिस्ट में लाने की भी कोशिश हो रही है। ताकि पाकिस्तान को किसी भी देश से आर्थिक मदद न मिल सके। पुलवामा...

खेलना इतना आसान नहीं होगा!

क्रिकेट का प्रयोग भारत-पाक संबंधों को मधुर बनाने से लेकर अपना गुस्सा जाहिर करने के लिए भी किया जाता रहा है। पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान से सियासी संबंधों के साथ-साथ इसका असर क्रिकेट पर दिखाई दे रहा है। ताजा घटनाक्रम इसी बात को इंगित कर रहा है। पुलवामा दहशतगर्दाना...

जन्नत नहीं, जहन्नुम में जाएंगे!

‘बेगुनाहों और मासूमों को मारना जिहाद नहीं, बल्कि फसाद है। और फसाद इस्लाम की नजर में हराम है।’ फिर आतंकियों को मरने के बाद जन्नत कैसे नसीब होती है? क्या वाकई जिहाद के नाम पर खूनी खेल खेलने वाला आदिल अहमद डार इस समय जन्नत में है? पु लवामा हमले...

लाइलाज पाक का इलाज जल बम

गंभीर आर्थिक हालातों से जूझ रहे पाकिस्तान की कमर तोड़ने का कोई भी मौका अब भारत चूकना नहीं चाहता। आतंकिस्तान बन चुके पाकिस्तान की नापाक साजिशों का अंत होना जरूरी है। ताकि कश्मीर की वादियों में बारूद की गंध की बजाए फिर अमन चैन के केसर की महक भर...

मुखर हुआ जनता का रोष

देश भर में हर वर्ग और समाज के लोग पुलवामा हमले को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं। जो जहां है, वह जो कर सकता है, कर रहा है। इस आतंकी घटना ने पूरे देश को न केवल एक साथ खड़ा कर दिया है, बल्कि विरोध करके अपना रोष भी प्रकट...

भारत के तेवर से घबराया पाकिस्तान

अंतरराष्ट्रीय समुदाय यह अच्छी तरह जानता है कि पाकिस्तान आतंकवाद का केन्द्र है। लेकिन इमरान कहते हैं कि हमारा अब नया पाकिस्तान है। इससे हमें क्या फायदा है? हम खुद पीडि़त हैं। इमरान की विवशता समझी जा सकती है। वे ऐसी कोई बात नहीं बोल सकते जो सेना और...

गुस्से में पूरा देश

पुलवामा हमले से देश उबल रहा है। पूरा देश आतंकी संगठनों का पनाहगाह पाकिस्तान से आर-पार की लड़ाई चाहता है। देशवासियों के आक्रोश और शोक का ही नतीजा है कि केंद्र सरकार ने आतंक के खिलाफ कई बड़े कदम उठाए हैं। इसमें सेना को जम्मू-कश्मीर में खुली छूट देने...

कहीं पे निगाहें कहीं पे निशाना

महत्वाकांक्षा के चलते पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी राजनीतिक जीवन की मर्यादाएं भूल चुकी हैं। ममता बनर्जी के धरना समाप्त करने के साथ ही कोलकाता की जमीन पर 3 फरवरी को आरंभ हुआ राजनीतिक खेल फिलहाल भले ही रुक गया हो लेकिन निश्चित तौर पर यह इस नाटक का...

घोटालेबाजों का साथ देतीं ममता बनर्जी

एक मुख्यमंत्री का अपनी भूमिका भूलकर कानून और संविधान विरोधी अलोकतांत्रिक हरकत बहुत कुछ कहता है। तो यह क्यों न माना जाए कि ममता बनर्जी घोटालेबाजों का साथ दे रही हैं। और जानबूझकर सारदा घोटाले का पूरा सच सामने नहीं आने देना चाहतीं। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का...