रपट

‘बबुआ’ बनाने में कामयाब रहीं माया

गठबंधन के खेल में मायावती का पलड़ा अखिलेश से भारी नजर आ रहा है। इसलिए भी मुलायम सिंह भी अपने पुत्र को नसीहत देते नजर आ रहे हैं। स माजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव-2017 में ‘यूपी को ये साथ पसन्द है’ कहकर राहुल गांधी से...

आत्महत्या की जिम्मेदार ममता!

एक तरफ मुख्यमंत्री ममता अपने चहेते आईपीएस अधिकारी के लिए कुछ भी कर गुजरती हैं, दूसरी तरफ उन्हीं के राज्य में आईपीएस गौरव दत्ता सुसाइड नोट में उन्हें आरोपित करते हुए आत्महत्या कर लेते हैं। ए क सेवानिवृत्त आईपीएस अधिकारी की खुदकुशी को लेकर बंगाल की राजनीति में नया उबाल...

लड़कियां किसी दबाव में तो नहीं

मोकामा के बालिका गृह से लड़कियों का फरार हो जाना कोई आम घटना नहीं है। लड़कियों का भागना यह दिखाता है कि मुजफरपुर काण्ड के बाद भी सिस्टम कितना लापरवाह बना हुआ है। वहां से लड़कियां भागी हैं अथवा भगाई गईं हैं, इसका खुलासा होना बाकी है। मुजफरपुर बालिका गृह...

‘धरना कुमार’ केजरीवाल

धरने के बल पर सत्ता तक पहुंचे अरविंद केजरीवाल धरने का राजनीतिक उपयोग करने में सिद्धहस्त हो चुके हैं। फिर दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिए जाने के लिए एक मार्च को होने वाले धरने को स्थगित करने की क्या वजह हो सकती है? दिल्ली के राजनीतिक गलियारों में...

बिगड़ती कानून व्यवस्था

मध्य प्रदेश में पिछले कुछ दिनों से अपराध का ग्राफ बढ़ना चिंता का विषय है। इसका प्रमाण खुद राज्य सरकार के आंकड़े हैं। मध्य प्रदेश सतना चित्रकूट के एक विद्यालय के 6 साल के जुड़वा भाइयों श्रेयांश और प्रियांश को नहीं पता था कि वे अब कुछ ही दिनों में...

भोजपुरी को मिले संवैधानिक दर्जा

भोजपुरी को संविधान की आठवीं अनुसूची में शामिल कराने के लिए काफी दिनों से विभिन्न स्तर पर भोजपुरीभाषी संघर्ष कर रहे हैं। इसी क्रम में पिछले दिनों राजधानी दिल्ली में एक सम्मेलन का आयोजन किया गया। भो जपुरी को संवैधानिक दर्जा दिलाने की पहल को लेकर 21 फरवरी को दिल्ली...

आतंकवाद की ऐतिहासिक जड़ें

जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद आज की समस्या नहीं है। इसकी जड़ें इसके इतिहास में धंसी हुईं हैं। वह आज वट वृक्ष के रूप में हमारे सामने है, जिससे लड़ना आसान काम नहीं रह गया है। 26 अक्टूबर 1947 को जम्मू-कश्मीर के महाराजा हरि सिंह ने विलय संधि पर हस्ताक्षर कर जम्मू-कश्मीर...

डिप्लोमैटिक स्ट्राइक में विजयी भारत

आतंक की फैक्ट्री के रूप में कुख्याति अर्जित करने वाला पाकिस्तान अब वार्ता राग अलाप रहा है। इसका कत्तई यह मतलब नहीं है कि उसमें संयम और शांति का सिण्ड्रोम प्रवेश कर गया है। दरअसल इस अभिनय करने की विवशता के पीछे उसकी आर्थिक बदहाली है। इ स समय न...

आंतकवाद का सबसे बड़ा कारखाना

बालाकोट। यानी जेहादियों का मक्का, जहां दूर-दूर से जेहादी मत्था टेकने आया करते थे। पांच सितारा सुविधाओं से युक्त जेहादी बनाने वाली पूरी की पूरी आतंकी फैक्ट्री अब धूल धूसरित हो चुकी है। पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत स्थित इसी बालाकोट का इतिहास-भूगोल खंगालती यह रिपोर्ट। जेहादियों का मक्का था,...

एयर स्ट्राइक की अन्तर्कथा

सितंबर 2016 में सर्जिकल स्ट्राइक के जरिए एक तरह से पाकिस्तान को चेतावनी दी गई थी कि बदला हुआ भारत अब और माफ करने के मूड में नहीं है। बावजूद इसके आदतों से लाचार पाकिस्तान अपने धतकरमों से बाज नहीं आ रहा था। 26 फरबरी 2018 भारत के लिए ऐतिहासिक...