चुनाव डायरी

उपेक्षा से नाराज हैं भूमिहार

बिहार में भाजपा की नींव माना जाने वाला भूमिहार समुदाय खासा नाराज दिख रहा है। हालांकि नरेंद्र मोदी को दोबारा पीएम बनाने के लिए वह अपमान का घूंट पीने को विवश है। एक सच यह भी है कि राजद समेत अन्य दलों ने भी भूमिहारों की उपेक्षा में कोई...

क्या गुल खिलायेगी यह बगावत

बिहार में माई समीकरण के बलबूते दशकों तक एकछत्र राज करने वाले लालू के बड़े बेटे तेजप्रताप की बगावत क्या रंग लायेगी। कहीं यह पिछड़ों की राजनीति को तार-तार तो नहीं कर देगी। बिहार में छिड़े विरासत की जंग का आखिरकार परिणाम क्या निकलेगा, यह तो भविष्य के गर्भ में...

लालू परिवार में सियासी जंग – तेजप्रताप का विद्रोह

माई समीकरण के बूते एक दशक से भी अधिक समय तक बिहार की राजनीति के अजेय योद्धा रहे लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप की बगावत से महागठबंधन की संभावनाओं को पलीता लगना तय है। बहार में इन दिनों लोकसभा के चुनावी महाभारत में लालू परिवार में सियासी जंग...

राहुल गांधी ने वायनाड को क्यों चुना

कांग्रेस जिस सीट को पिछले चुनाव में केवल 20 हजार वोट से जीती थी, उसे राहुल गांधी के लिए सबसे सुरक्षित सीट कैसे माना जा सकता है, यह प्रश्न उठना स्वाभाविक है। यहां यह भी प्रश्न उठता है कि राहुल गांधी ने वायनाड को क्यों चुना? केरल का संसदीय क्षेत्र...

सांसद बनेगा सेना को बलात्कारी कहने वाला!

राष्ट्रकवि दिनकर की धरती बेगूसराय से इस बार भाकपा के टिकट पर कन्हैया कुमार लोकसभा पहुंचने का सपना देख रहे हैं। भारत तेरे टुकड़े होंगे इंशाअल्ला इंशाअल्ला से चर्चित हुए कन्हैया की बचकानी और गैर-जिम्मेदाराना राजनीति का कच्चा चिट्ठा खोलती यह रिपोर्ट पढ़ें। कन्हैया कुमार अब बिहार की बेगूसराय सीट...

कभी राजपूत, कभी यादव

बिहार की दो लोकसभी सीटों सीतामढ़ी और शिवहर में क्रमश: 6 और 12 मई को वोटिंग होनी है। चुनाव डायरी में इस बार जानते हैं सीतामढ़ी और शिवहर के बारे में। सीता की सीतामढ़ी का राजनीतिक इतिहास इसे तिरहुत का बताता है, पर संस्कृतिक भावना इसे मिथिला से जोड़ती है।...

आजादी चाहती हैं प्रियंका

आजादी के लिए प्रियंका वाड्रा निकली हैं। उसमें जनता गायब है। अगर कोई है तो बस परिवार है। सच बोल रही हैं प्रियंका वाड्रा। लड़ाई तो आजादी की है। पीड़ा से मुक्ति की है। वे जहां से यह बोल रही थीं, वह मुक्ति धाम है। काशी कहा जाता है उसे।...

गाली को गहना बना लेने की कला

अपनी तरफ आने वाले तीर को विपक्षी की ओर मोड़ देने की कला में पारंगत पीएम मोदी ने ‘मैं भी चौकीदार हूं’ के जरिए इस बात की एक बार फिर तस्दीक की है। चायवाला के जरिए सांसत में फंस चुकी कांग्रेस एक बार फिर चौकीदार के भंवरजाल में फंसती...

पूर्व चंपारण भूला, केसरिया

चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव की घोषणा कर दी है। मोतीहारी में 12 मई को वोटिंग की तिथि निर्धारित की गई है। चुनाव डायरी में इस बार जानते हैं पूर्व चंपारण के बारे में जो अब मोतिहारी बन गया है। कि तनी लंबी कहानी है मोतीहारी की पूर्व चंपारण बनने...