कुंभ

राजदूतों के जरिए कुंभ की ब्रांडिंग

आजादी के बाद से अभी तक उत्तर प्रदेश के पास दुनिया को दिखाने के लिये ताज महल और बौद्ध ध्वंसावशेष सारनाथ के अलावा कुछ और नहीं था। पर अब प्रदेश की योगी सरकार ने सभ्यता और संस्कृति की एक परम्परा ‘प्रयागराज कुंभ’ को शोकेस बनाकर प्रस्तुत किया है। इस...

कुंभ प्रबंधन का नया हथियार

लगभग हर क्षेत्र में अपनी धाक बना चुके स्मार्टफोन ने वीडियो कॉल से लेकर आॅनलाइन खरीददारी, मोबाइल बैंकिंग, चिकित्सा आदि क्षेत्रों के बाद अब आस्था के क्षेत्र में भी अपनी जगह बना ली है। वैसे भी स्मार्टफोन के मामले में भारत एक बड़ा और बढ़ता हुआ बाजार है। ऐसे...

माघ मास का माहात्म्य और पर्व

भारतीय परंपरा में माघ महीने का विशेष महत्व है। यह महीना न केवल मौसम में बदलाव का सूचक है, बल्कि इस दौरान तमाम आध्यात्मिक और सांस्कृतिक पर्वाें की शुरुआत भी होती है। माना जाता है कि इस माह के दौरान पवित्र नदियों में स्नान करने से लोगों को पापों...

कल्पवास का माहात्म्य

मा घ का महीना कल्पवास करने की दृष्टि से प्राचीनकालसे ही महत्वपूर्ण माना जाता रहा है। यह परम्परा अबभी अक्षुण्ण है। कल्पवासियों का प्रयाग क्षेत्र में प्रवेशपौषपूर्णिमा से ही प्रारम्भ हो जाता है। तैयारियां तो पहले से हीहोने लगती हैं किन्तु कल्पवासियों की दिनचर्या और कल्पवासपौषपूर्णिमा के संगम स्नान...

कुंभ पर्व की आदिकालिकता

कुंभ कब से मनाया जा रहा है, इसके लिखित और ठोस प्रमाण उपलब्ध नहीं हैं। फिर भी एक अनुमान लगाया जा सकता है कि वर्तमान कुंभ 36 लाख साल से भी अधिक पुराना है कुंभ पर्व बहुत पुराना है। इसे आदि पर्व कहा जाता है। इसकी आदिकालिकता पर किसी को...

कुंभ पर कुछ पौराणिक बातें

अथर्ववेद में एक मंत्र है जिसका अर्थ है- अमृतसे भरा कुंभ समुद्र मंथन के बाद जहां-जहां रखागया था, उन स्थानों पर कुंभ पर्व को हम लोगहोता हुआ देख रहे हैं। यह कुंभ पर्व समस्त चौदह भुवनोंमें समय-समय पर उपस्थित होता है। कुंभ पर्व के समय कोबैकुंठ के समान पवित्र...

कुंभ का माहात्म्य

कालचक्र में सूर्य, चन्द्र और बृहस्पति की भूमिका महत्त्वपूर्ण है। तीनों का योग कुंभ का मूल आधार है। इस स्थिति में सभी ग्रह मित्रतापूर्ण और श्रेष्ठ माने जाते हैं। उसी तरह जब मानव जीवन में सज्जनों की संगति का योग बैठता है, तभी सद्चिन्तन का प्राकट्य होता है। अथर्ववेद में...

‘राम और राष्ट्र मन्दिर दोनों जरूरी’

प्रयागराज कुम्भ से पहले वैचारिक कुम्भ के आयोजन की कड़ी में राजधानी लखनऊ ‘युवा कुम्भ’ की साक्षी बनी। 22-23 दिसबंर को देश के कोने-कोने से लगभग पांच हजार युवाओं की मौजूदगी ने इसे बेहद खास बनाया। प्रयागराज कुम्भ से पहले उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में युवा कुम्भ का आयोजन...

संगम की रेती पर कुम्भ का आगाज

त्याग, तपस्या और यज्ञ की पवित्र भूमि तीर्थराज प्रयाग में कुम्भ का आगाज हो गया है। संगम की रेती पर करीब 50 दिन तक चलने वाला कुम्भ मेला यद्यपि 15 जनवरी को प्रथम शाही स्नान से प्रारम्भ होगा, लेकिन अखाड़ों की पेशवाई के साथ मेले की अनौपचारिक शुरुआत 25...