संजय वर्मा

13 POSTS0 COMMENTS

अव्यावहारिक और विवादास्पद घोषणा पत्र

कांग्रेस ने अपने मेनिफेस्टो में अफस्पा व राजद्रोह कानून को खत्म करने का वादा कर एक बड़े राजनीतिक विवाद को जन्म दे दिया है। सवाल है कि क्या कांग्रेस नहीं चाहती कि देश से आतंकवाद व नक्सलवाद का जड़ से खात्मा हो। हम निभायेंगे के वादे के साथ लोकसभा चुनाव...

पर्रिकर के बाद गोवा

पर्रिकर के जाने के बाद गोवा में उथल-पुथल का दौर जारी है। एमजीपी से भाजपा में आए विधायकों के मंत्री के तौर पर शपथ लेते वक्त गोवा फारवर्ड पार्टी तथा खुद भाजपा के बहुत सारे विधायकों की अनुपस्थिति बता रही है कि गोवा की आखिरी राजनीतिक तस्वीर आनी अभी...

मुकाबला गैर-बराबरी का

युद्ध का बहुत पुराना कायदा है कि अपने विरोधी की कमजोर रग को पकड़ना चाहिए और यह प्रयास करना चाहिए कि उसके मजबूत पक्ष को उभरने का मौका न मिले। कांग्रेस और दूसरे विपक्षी दलों को युद्ध की यह छोटी सी रणनीति समझ में नहीं आई। नि र्वाचन आयोग ने...

अपनी रणनीति बदलने को मजबूर विपक्ष

लोकसभा चुनाव सिर पर है और अभी तक विपक्ष पीएम मोदी का कोई तोड़ नहीं निकाल पाया है। एकमात्र एजेंडा मोदी को हराओ के तहत धुर विरोधी भी एक-दूसरे की गलबहियां करने को मजबूर हैं। पुलवामा और बालाकोट के बाद देश के विपक्षी दलों को 2019 के लोकसभा चुनावों से...

गठबंधनों की साफ होती तस्वीर

लोकसभा चुनाव के पहले बीजेपी ने महाराष्ट्र के बाद तमि लनाडु में गठबंधन कर चुनावी गणित को साध लिया है। इससे दोनों राज्यों में बीजेपी को फायदा होना तय है। लो कसभा चुनावों के लिए होने वाले राजनीतिक गठबंधनों की तस्वीर धीरे-धीरे स्पष्ट होने लगी है। कौन किसके साथ जाएगा...

खतरनाक हो सकता है फ्रंटफुट पर खेलना

लोकसभा चुनाव के मद्देनजर कांग्रेस ने अपना प्रियंका कार्ड चल दिया है। मरी हुई कांग्रेस में जान फूंकने में प्रियंका और राहुल कोई कसर नहीं छोड़ना चाहते हैं। इससे लग रहा है कि कांग्रेस आगे बढ़कर खेल रही है। पर राहुल गांधी के लिए इस तरह खेलना आत्मघाती तो...

कहीं पे निगाहें कहीं पे निशाना

महत्वाकांक्षा के चलते पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी राजनीतिक जीवन की मर्यादाएं भूल चुकी हैं। ममता बनर्जी के धरना समाप्त करने के साथ ही कोलकाता की जमीन पर 3 फरवरी को आरंभ हुआ राजनीतिक खेल फिलहाल भले ही रुक गया हो लेकिन निश्चित तौर पर यह इस नाटक का...

अभी दूर है दिल्ली

तीन राज्यों के विधान सभा चुनाव परिणामों के आने के बाद से स्वाभाविक तौर पर कांग्रेस नेतृत्व और पार्टी कार्यकर्ता उत्साह में हैं। इसमें कुछ भी आश्चर्य की बात नहीं है। ये ठीक है कि तीन विधान सभा चुनावों के परिणाम कांग्रेस और भाजपा विरोधी अन्य राजनीतिक ताकतों के लिए...

खेल शह और मात का

अभी हाल ही में बीएसपी प्रमुख मायावती ने कांग्रेस को नागनाथ और बीजेपी को सांपनाथ कहते हुए दोनों से किसी तरह का समझौता नहीं करने का ऐलान किया था। यह बयान अगले लोकसभा चुनाव में बीजेपी के खिलाफ गठबंधन बनाने की कोशिश कर रहे लोगों के लिए बड़ा झटका...

मजबूरियों से बंधे चंद्रबाबू

अभी हाल-हाल तक एनडीए का हिस्सा रहे चंद्रबाबू नायडू अब देश भर की बीजेपी विरोधी राजनीतिक शक्तियों को एकजुट करने में लगे हैं। इस क्रम में उन्होंने शरद पवार, राहुल गांधी, मायावती, अखिलेश यादव, एचडी देवगौड़ा और फारुख अब्दुल्ला से मुलाकात की है। उनका यह अभियान आगे भी जारी...