संजय कुमार झा

4 POSTS0 COMMENTS

बच्चों की शिक्षा का प्रबंध कर्तव्य है, निवेश नहीं

स च तो यह है कि हमारी संस्कृति में अधिकांश लोग बच्चों के लालन-पालन और उनकी शिक्षा-दीक्षा का प्रबंध करने में नफा-नुकसान नहीं सोचते। इसे अपना कर्तव्य मानकर ही हैसियत के अनुसार उन्हें पढ़ाते-लिखाते हैं। जमीन या मकान बेचकर संतान को पढ़ाने वाले भी उसे यह नहीं कहते कि...

यह उदासीनता क्यों?

12 जनवरी, 2018 को सर्वोच्च न्यायालय के चार जजों ने क्रांतिकारी प्रेस कांफ्रेंस कर कुछ सवाल उठाए थे। एक साल बीत चुका है और आज उन्हीं में से एक न्यायमूर्ति रंजन गोगोई मुख्य न्यायाधीश की कुर्सी पर हैं। बदलाव का प्रयास तो दिख रहा है, लेकिन जनमानस से जुड़े...

राम पर भारी राफेल

राफेल विमान सौदे को लेकर दाखिल जनहित याचिका पर सर्वोच्च न्यायालय ने जिस तरह का रुख अपनाया है, उसपर सवाल उठने लगे हैं। दस अक्टूबर को इस मामले की सुनवाई में मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई, यूयू ललित और केएम जोसेफ की पीठ ने कहा कि वह कोई...

न्याय के मंदिर में भगवान अयप्पा

सबरीमाला मंदिर का मामला एक बार फिर सर्वोच्च न्यायालय में है। मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई और एसके कौल की पीठ ने 23 अक्टूबर को पुनर्विचार याचिका स्वीकार करते हुए कहा कि इस पर 13 नवंबर को सुनवाई होगी। पीठ ने यह भी कहा कि कुल 19 याचिकाएं...