प्रकाश के रे

15 POSTS0 COMMENTS

कद्दावर कादर खान का शानदार सफर

हिन्दी सिनेमा के कई विधाओं में अपनी छाप छोड़ने वाले अभिनेता कादर खान इस दुनिया से रुखसत हो गए। उनके बेहतरीन काम के लिए उनके चाहने वालों ने उन्हें शिद्दत से याद किया। सार्थक और सराहनीय कहानियों में तीन तत्व बहुत अहम होते हैं- संयोग, संघर्ष एवं सफलता। हिंदी सिनेमा...

जीरो हुई ढेर सिंबा करेगी कमाई

साल 2018 के आखिरी दिनों में आयी सुपरस्टार शाहरुख खान की फिल्म ‘जीरो’ बॉक्स आॅफिस पर औंधे मुंह गिरी है। आनंद एल. राय द्वारा निर्देशित यह फिल्म 21 दिसंबर को सिनेमाघरों में आयी थी और पहले दो दिनों की अच्छी शुरुआत के बावजूद पहले हते की उसकी कुल कमाई...

सिनेमाई बही खाता

श्रीदेवी फिल्मी दुनिया की लंबे समय तक सुपरस्टार रहीं श्रीदेवी की असमय मौत फिल्म उद्योग और करोड़ों प्रशंसकों के लिए बहुत बड़ा झटका रही। दुबई में एक पारिवारिक शादी के दौरान हुई दुर्घटना में 24 फरवरी को वे चल बसीं। कुल जमा 54 साल की आयु रही उनकी और इसमें...

खिलाड़ी कुमार की सिनेमाई यात्रा

देशभर के सिनेमाघरों में रजनीकांत और अक्षय कुमार की फिल्म ‘2.0’ धूम मचा रही है। यह सब उम्मीद के अनुरूप ही है। रजनीकांत तो स्टारडम की हर हद लांघ ही चुके हैं और तीन दशक से अक्षय कुमार भी सिनेप्रेमियों की पसंद बने हुए हैं। इस कॉलम में हम...

आजादी के नेता और सिनेमा

भले ही 1947 के बाद से अब तक सिनेमा का रंग-ढंग बहुत हद तक बदल चुका है, पर उसकी बुनियाद में 1913 और 1930-40 के बीच के कई कारक हैं। साल 1931 में भारतीय सिनेमा ने बोलना भी शुरू कर दिया था। अब सिनेमा को भी राष्ट्र के सांस्कृतिक जीवन...

हालिया इतिहास भी हो हिंदी फिल्मों में

इन दिनों अंतरराष्ट्रीय स्तर पर क्रिस विट्ज की फिल्म ‘आॅपरेशन फिनाले’ की खूब चर्चा है। इस फिल्म का विषय हिटलर के शासन के एक प्रमुख अधिकारी एडॉल्फ आइकमैन के अर्जेंटीना में इजरायल की खुफिया एजेंसी मोसाद के एजेंटों द्वारा अपहरण और इजरायल लाये जाने के प्रकरण पर आधारित है। जब 1930-40...

ऑस्कर में विलेज रॉकस्टार्स

इस बार आॅस्कर में विदेशी श्रेणी के लिए रीमा दास निर्देशित ‘विलेज रॉकस्टार्स‘ को भेजा गया है। कम बजट की इस फिल्म ने पहले ही तमाम फिल्म समीक्षकों-आलदुनिया के सबसे प्रतिष्ठित फिल्म पुरस्कार आॅस्कर के लिए भारतीय प्रविष्टि के रूप में रीमा दास द्वारा निर्देशित स्वतंत्र असमी फिल्म ‘विलेज रॉकस्टार्स‘ को चुना गया...

अमिताभ-आमिर की ठगी

इस साल अनेक अच्छी फिल्में आयी हैं जिन्हें दर्शकों ने भी पसंद किया है और समीक्षकों ने भी सराहा। लेकिन आगामी आठ नवंबर को परदे पर आ रही ‘ठग्स आॅफ हिंदोस्तान‘ कई स्तरों पर न सिर्फ 2018 की सबसे बड़ी फिल्म साबित हो सकती है, बल्कि हिंदी सिनेमा के दायरे को विस्तार...

अदम्य साहस की गाथा ‘पलटन’

हिंदी सिनेमा में भारतीय सेना से जुड़ी अनेक गाथाओं पर फिल्में बनी हैं, पर वास्तविक युद्धों में साहस और पराक्रम की कहानी कहने वाली फिल्में गिनी-चुनी ही हैं। सात दशकों के स्वतंत्र भारत में पड़ोसी देशों से युद्ध, झड़पों, घुसपैठ और तस्करी आदि की अनगिनत घटनाएं हैं और ऐसी हर घटना पर...

आर के स्टूडियो जब यादें ही बचेंगी

भारतीय सिनेमा के इतिहास में विशेष महत्व रखने वाले अनेक स्टूडियो आज आवासीय कॉलोनियों और व्यावसायिक भवनों में बदल चुके हैं। पिछले कुछ दिनों से खबर गर्म है कि 1948 में राज कपूर द्वारा स्थापित आरके स्टूडियो भी इसी नियति को प्राप्त हो सकता है। हमारे देश के आधुनिक...