राजधानी दिल्ली में दिनोंदिन प्रदूषण बढ़ता जा रहा है। विशेषकर ठंड के मौसम में वायु प्रदूषण का स्तर अधिक हो जाता है। इससे दिल्ली वासियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इसी प्रदूषण से निजात के लिए पर्यावरण मंत्रालय द्वारा ‘वायु’ नामक मशीनें लगाईं जायेंगी। काउंसिल आॅफ साइंस एंड इंडस्ट्रीयल रिसर्च-नेशनल एनवायरमेंटल इंजीनियरिंग रिसर्च इंस्टीट्यूट(सीएसआईआर-नीरी) की तरफ से विकसित की गई विंड आॅगमेंटेशन प्यूरिंग यूनिट (वायु) का केंद्रीय विज्ञान एवं तकनीक मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने शुभारंभ किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि 15 अक्टूबर तक दिल्ली के अलग-अलग चौराहों पर 54 एयर प्यूरीफायर लगाए जाएंगे।  ये यंत्र 500 वर्गमीटर में हवा साफ करेंगे। इसके साथ ही भविष्य में 10 किलोमीटर तक की हवा साफ करने वाले यंत्र को विकसित करने पर काम चल रहा है। यह वायु यंत्र दो सिद्धांत पर काम करते हुए पहले हवा में जो प्रदूषित कण है उसे सोखेंगे दूसरा, एक्टिव प्रदूषण उसमें से हटा देंगे। वायु यंत्र को 10 घंटे चलाने में सिर्फ आधा यूनिट बिजली खर्च होगी यानी इसमें खर्च भी कम आएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here