प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए जिस तरह पुराने प्रश्न पत्र तैयारी में काफी सहायक सिद्ध होते हैं। उसी प्रकार मॉक टेस्ट से अपनी तैयारी की स्पीड की परख कर सकते हैं।

आज के दौर में सभी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए आॅनलाइन और आॅफलाइन मॉक टेस्ट दोनों की सुविधा मौजूद है। इसलिए इनकी मद्द से आॅनलाइन टेस्ट में हिस्सा लेकर आप अपनी तैयारी की एक्यूरेसी और स्पीड की परख कर सकते हैं।

आजकल मॉक टेस्ट के लिए आॅफलाइन से ज्यादा आॅनलाइन का चलन अधिक है। क्योंकि अधिकतर प्रतियोगी परीक्षाएं आॅनलाइन होने लगी हैं। एसएससी, बैंकिंग, रेलवे के साथ-साथ केंद्र और राज्य स्तरीय परीक्षा की तैयारी करने वाले छात्रों के लिए मॉक टेस्ट सीरीज से जुड़कर रियल परीक्षा के पहले अपनी तैयारी की जांच-परख करना अच्छा निर्णय साबित होगा। इससे पता चल जाएगा कि किस सेक्शन की तैयारी मजबूत है और किस सेक्शन की तैयारी में अभी और समय देना है।

आॅनलाइन मॉक टेस्ट

आजकल लगभग सभी परीक्षाओं के लिए आॅनलाइन मॉक टेस्ट की सुविधा मौजूद है। इस टेस्ट की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि इससे समय की बर्बादी नहीं होती है। क्योंकि आॅफलाइन मॉक टेस्ट में आपको किसी कोचिंग सेंटर में जाना होता है। वहीं आॅनलाइन मॉक टेस्ट सीरीज में आप घर बैठे इसमें शामिल हो सकते हैं। आॅनलाइन मॉक टेस्ट में कुछ एप्स हैं जो काफी सहायक साबित हो सकते हैं। कई एप्स में से एक है वाईफाई स्टडी एप। जिसे आप गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड कर सकते हैं। इस एप्लिकेशन ने 30 से अधिक परीक्षाओं को कवर किया है। यहां आप फ्री में लाइव क्लासेज, क्विज प्रैक्टिस और परफॉर्म एनालिसिस जैसी सुविधाएं प्राप्त कर सकते हैं। इसके साथ यहां आपको पिछले साल के प्रश्न पत्र भी आसानी से मिल जाते हैं। आईबीपीएस, एसएससी, यूपीएससी, स्टेट पीसीएस आदि परीक्षा की तैयारी करने वाले आॅनलाइन मॉक टेस्ट का लाभ उठा सकते हैं। आॅनलाइन में आजकल सेक्शन वाइज फुललेंथ की सुविधाएं मौजूद है। इसमें इतिहास, भूगोल, इकोनॉमी, इंग्लिस और करेंट अफेयर्स आदि का मॉक टेस्ट दे सकते हैं।

समय की बचत

यदि आपने किसी विशेषज्ञ द्वारा तैयार मॉक टेस्ट सीरीज ज्वाइन किया है तो निश्चितौर पर आपके एग्जाम के लिए यह वरदान सिद्ध हो सकता है। इससे परीक्षा के पैटर्न को समझने में आसानी होती है। जिससे बाद में असली परीक्षा में प्रश्न पत्र हल करने में 50 फीसदी तक का टाइम बच सकता है। क्योंकि मॉक टेस्ट कॉम्पिटिटिव एग्जाम के पैटर्न पर ही आधारित होते हैं। इसलिए उसी एग्जाम के आधार पर ही टेस्ट लिया जाता है। इस तरह तैयारी कर रहे छात्रों को रियल एग्जाम का अनुभव बाद में मद्दगार सिद्ध होता है। विशेषकर बैंकिंग और एसएससी परीक्षाओं के लिए आॅनलाइन मॉक टेस्ट से बेहतर कोई विकल्प ही नहीं हो सकता है। क्योंकि इससे आपको टाइम मैनेजमेंट का अंदाजा पहले हो जाता है। जिससे परीक्षा को क्रैक करने के लिए आप एक सटीक रणनीति बना सकते हैं। इसके अलावा मॉक टेस्ट सीरीज पूरी होने के बाद स्वयं ही अपनी प्रोग्रेस रिपोर्ट भी देख सकते हैं। इस तरह आज के टेक्नोलॉजी के दौर में आप आॅफलाइन से अधिक आॅनलाइन मॉक टेस्ट सीरीज के जरिए घर बैठे अपने एग्जाम की तैयारी की जांच-परख कर सकते हैं।

सूचना
युगवार्ता का यह पन्ना छात्र-छात्राओं की रचनात्मक प्रतिभा के लिए रखा गया है। इसमें स्वरचित कविता, लघुकथा,
पेंटिंग और सद् विचार शामिल हैं। रचनाएं कृपया इस मेल पर भेजें- yugwarta@gmail.com
संपादक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here